Latest news

सरकारी स्कूलों में चलेगा युवा एंटरप्रेन्योर प्रोग्राम

सरकारी स्कूलों में चलेगा युवा एंटरप्रेन्योर प्रोग्राम

 

 

– 11वीं के स्टूडेंट्स के आइडिया को आगे बढ़ाने के लिए दी जाएगी 2000 की सीड मनी

– शिक्षा विभाग की ओर से फाइनेंशियल और लीडरशिप स्किल्स के बारे में भी सिखाया जाएगा

 

 

 

शिक्षा फोकस, लुधियाना। सरकारी स्कूलों के स्टूडेंट्स को स्कूल समय से ही एंटरप्रेन्योरशिप के बारे में जागरुक करने और उनके आइडियाज को आगे बढ़ाने के लिए यंग एंटरप्रेन्योर प्रोग्राम चलाया जाना है। इस स्कीम को ग्यारहवीं क्लास के स्टूडेंट्स के लिए आयोजित किया जाएगा। सरकार द्वारा पंजाब यंग एंटरप्रेन्योर प्रोग्राम के तहत ग्यारहवीं क्लास के स्टूडेंट्स को एंटरप्रेन्योर बनने के लिए प्रेरित किया जाएगा जिनके पास आइडिया है और जो उसे आगे बढ़ाना चाहते हैं।

पंजाब यंग एंटरप्रेन्योर प्रोग्राम के तहत ग्यारहवीं क्लास के स्टूडेंट्स को स्टार्ट-अप प्रोग्राम के तहत अपने खुद के बिजनेस आइडियाज को पेश करना होगा। जिसे सरकार द्वारा सीड मनी जोकि 2000 निर्धारित की गई है उसके तहत स्टूडेंट्स को फाइनेंशियल और लीडरशिप स्किल्स सिखाई जाएंगी। इससे उन्हें स्कूल के बाद अपने करियर में भी मदद मिलेगी और अगर वो अपना काम शुरू करना चाहते हैं तो उसमें भी उन्हें मदद मिलेगी। शिक्षा विभाग द्वारा इस प्रोजेक्ट की सरकारी स्कूलों में शुरुआत कर दी है।

 

 

 

स्टार्टअप को कैसे चला सकते हैं इसके बारे में किया जाएगा जागरूक

इस प्रोजेक्ट के तहत स्टूडेंट्स को माहिरों द्वारा बताया जाएगा कि स्टार्टअप को किस तरह से चलाया जाए और स्टूडेंट्स भविष्य में किस तरह से प्लानिंग कर सकते हैं। सीड मनी का इस्तेमाल करके ही स्टूडेंट्स कम फंड में अपने आइडिया को कैसे आगे बढ़ाना है इसके बारे में भी जानकारी हासिल करेंगे।

गौरतलब है कि कई तरह के एंटरप्रेन्योर प्रोग्राम तो चलाए जा रहे हैं लेकिन सरकारी स्कूल स्तर पर एंटरप्रेन्योरशिप को बढ़ावा देने के लिए इस तरह का पहला प्रोग्राम है। इसके लिए शिक्षा विभाग द्वारा सभी स्कूलों के प्रिंसिपल्स के लिए एजुसेट पर सेशन भी आयोजित किया जा चुका है। जिससे कि पहले प्रिंसिपल्स और स्कूल स्टाफ इस प्रोजेक्ट से जागरूक हो और स्टूडेंट्स को बता सकें।

स्कूलों द्वारा प्रोजेक्ट के बारे में स्टूडेंट्स को जानकारी भी दी जा चुकी है। जल्द ही इसकी विस्तार से गाइडलाइंस भी जारी होने की बात कही जा रही है। गवर्नमेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल ढंडारी खुर्द के प्रिंसिपल उज्जवलवीर सिंह ने बताया कि स्टूडेंट्स में एंटरप्रेन्योरशिप की भावना का विकास करने के लिए ये एक अच्छी पहल है।

गवर्नमेंट स्मार्ट स्कूल पीएयू की प्रिंसिपल बलविंदर कौर ने बताया कि स्टूडेंट्स के पास आइडिया कई तरह के होते हैं लेकिन कई बार आगे कैसे बढ़ना है और क्या कदम उठाने हैं इसके बारे में जानकारी नहीं होती। इस प्रोजेक्ट की मदद से स्टूडेंट्स को अपने आइडियाज को आगे बढ़ाने का अवसर मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: