Latest news

अंतरिक्ष केंद्रीय विद्यालय में लगना है टीचर तो इसरो ने निकाली है भर्ती

अंतरिक्ष केंद्रीय विद्यालय में लगना है टीचर तो इसरो ने निकाली है भर्ती

– शिक्षकों (TGT, PGT, PRT) की भर्ती के लिए करना होगा ऑनलाइन आवेदन

शिक्षा फोकस, दिल्ली। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र शार के श्रीहरिकोटा और सुल्लुरूपेट परिसर में स्थित अंतरिक्ष केंद्रीय विद्यालय में विभिन्न शिक्षक पदों पर भर्ती के लिए विज्ञापन जारी किया है।

संगठन द्वारा 6 अगस्त 2022 को जारी भर्ती विज्ञापन (सं. SDSC SHAR/RMT/01/2022) के अनुसार, मैथ, फिजिक्स, बॉयोलॉजी और केमिस्ट्री विषयों के लिए पोस्ट ग्रेजुएट टीचर (पीजीटी) की भर्ती की जानी है।

इसी प्रकार, मैथ, इंग्लिश, केमिस्ट्री, बॉयोलॉजी, पीईटी-मेल और पीईटी फीमेल में ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर (टीजीटी) की भी भर्ती होनी है। साथ ही, प्राइमरी टीचर की भी भर्ती की जानी है। सभी पदों की कुल 19 रिक्तियों के लिए विज्ञापन जारी किया गया है।

इसरो द्वारा विज्ञापित टीजीटी, पीजीटी और पीआरटी भर्ती के लिए आवेदन के इच्छुक व योग्य उम्मीदवार सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र शार की आधिकारिक वेबसाइट, apps.shar.gov.in पर भर्ती सेक्शन में उपलब्ध कराए गए ऑनलाइन अप्लीकेशन फॉर्म के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं।

आवेदन की प्रक्रिया विज्ञापन जारी होने का साथ ही यानि 6 अगस्त से शुरू हो चुकी है और उम्मीदवार 28 अगस्त 2022 तक अपना अप्लीकेशन ऑनलाइन मोड में सबमिट कर सकेंगे। आवेदन के दौरान उम्मीदवारों को 750 रुपये के शुल्क का भुगतान ऑनलाइन माध्यमों से करना होगा। हालांकि, आरक्षित वर्गों के उम्मीदवारों को अधिकतम आयु सीमा में छूट दी गई है, अधिक जानकारी व अन्य विवरणों के लिए भर्ती विज्ञापन देखें।

इसरो शिक्षक भर्ती के लिए योग्यता मानदंड

पीजीटी पदों के लिए उम्मीदवारों को रिक्तियों से सम्बन्धित विषय में मास्टर्स डिग्री न्यूनतम 50 फीसदी अंकों के साथ उत्तीर्ण होना चाहिए। साथ ही, किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से बीएड डिग्री प्राप्त किया होना चाहिए। इसी प्रकार, टीजीटी के लिए उम्मीदवारों को सम्बन्धित विषय के साथ स्नातक कम से कम 50 फीसदी अंकों के साथ उत्तीर्ण होने के साथ-साथ बीएड किया होना चाहिए। दूसरी तरफ, पीईटी पदों के लिए शारीरिक शिक्षा में स्नातक होना चाहिए। पीआरटी के लिए कम से कम 50 फीसदी अंकों के साथ 12वीं और प्राथमिक शिक्षा में 2 वर्षीय डिप्लोमा होना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: