Latest news

पानी की टैंकी पर चढ़े पीटीआई 646 टीचरों को मिला मीटिंग का आश्वासन

पानी की टैंकी पर चढ़े पीटीआई 646 टीचरों को मिला मीटिंग का आश्वासन

 

 

– क्रेन की मदद से टैंकी पर चढ़े टीचरों को नीचे उतारा

पानी की टैंकी पर चढ़े पीटीआई 646 टीचरों को मिला मीटिंग का आश्वासन
शिक्षा फोकस, चंडीगढ़। दीपावली पर पंजाब सरकार ने टैंकी पर चढ़े पीटीआई 646 टीचरों को मीटिंग का आश्वासन देकर उनका धरना समाप्त करवा दिया है। प्रशासन ने उन्हें हर समर्थन देने का वायदा किया है। प्राशासन ने टीचरों से यह आश्वासन शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस के आदेश पर किया है। उनके साथ सरकार की तरफ से 27 अक्टूबर को एक बैठक की जाएगी, जिसमें उनकी मांगों को सुना जाएगा।

गौर हो कि अध्यापक सीपी शर्मा व उनके साथ अपनी मांगों को लेकर टैंकी पर चढ़े हुए थे। उनका मामला 2011 का है। पीटीआई टीचर यूनियन का दावा है कि अभी तक करीब दो से तीन सरकारें बदल चुकी हैं लेकिन उनकी मैरिट जारी नहीं हो सकी है। यूनियन ने नीचे उतरने से पहले सीधे तौर पर फोन से प्रशासन के साथ बातचीत की, जिसके बाद उन्हें क्रेन की मदद से नीचे उतारा गया। सरकार ने दोपहर को य कार्रवाई की है।

हरजोत सिंह बैंस ने टीचरों को कहा कि जो भी डिमांग हैं उन्हें एक साथ बैठकर ही हल किया जा सकता है। धरने देना इसका हल नहीं है। उन्होंने कहा है कि सरकार मुलाजिम वर्ग की प्रत्येक मांग को पूरा करने को तैयार है।

पीटीआई 646 टीचर यूनियन के इस प्रदर्शन को कई राजनीतिक पार्टियों ने कैश करने की कोशिश भी की। इस जगह पर बिक्रमजीत सिंह मजीठिया, सुखपाल सिंह खैहरा, प्रेम सिंह चंदूमाजरा सहित कई नेता पहुंचे थे। बेशक मिलने पहुंचे नेताओं ने अपनी सरकार रहते हुए इन अध्यापकों की बात नहीं सुनी लेकिन अब यूनियन से बात करते हुए नेताओं ने बात करते हुए उनकी डिमांड हल करने का दावा किया था।

पीटीआई 646 टीचरों ने नीचे उतरते हुए पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि उनके कई त्यौहार टैंकी पर ही मनाए हैं। अब शिक्षा मंत्री गुरु गोबिंद सिंह जी की फोटो तरफ हाथ रख शपत लेकर उनकी मांगों को हल करने का दावा किया है।

अध्यापकों ने कहा कि मौजूदा समय हालात ऐसे हैं कि शिक्षा विभाग को सरकार नहीं चला रही है बल्कि अधिकारी चला रहे हैं। जो उनकी भर्ती में रूकावट बने हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: