Latest news

पंजाब के सर्वश्रेष्ठ स्कूलों की सूची में जिला पठानकोट के 3 स्कूलों को मिला स्थान

पंजाब के सर्वश्रेष्ठ स्कूलों की सूची में जिला पठानकोट के 3 स्कूलों को मिला स्थान

पंजाब के सर्वश्रेष्ठ स्कूलों की सूची में जिला पठानकोट के 3 स्कूलों को मिला स्थान

– सर्वश्रेष्ठ स्कूलों को 5 लाख रुपये, 7.50 लाख रुपये और 10 लाख रुपये का पुरस्कार मिलेगा

 

– समिस सिंबली गुजरां को 5 लाख, सहस रानीपुर रमसा को 7.50 लाख और ससस नरोट मेहरा को 10 लाख का पुरस्कार मिला

 

शिक्षा फोकस, पठानकोट। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान और शिक्षा मंत्री हरजोत बैंस के नेतृत्व में पंजाब सरकार द्वारा जारी सत्र 2021-22 के सर्वश्रेष्ठ सरकारी स्कूलों की जिलावार सूची में जिला पठानकोट के तीन स्कूलों को शामिल किया गया है। जिला शिक्षा अधिकारी सेकेंडरी जसवंत सिंह और उप जिला शिक्षा अधिकारी सेकेंडरी राजेश्वर सलारिया ने सरकारी मिडल स्कूल सिंबली गुजरां, सरकारी हाई स्कूल रानीपुर रमसा और सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल नरोट मेहरा के स्कूल मुखियों एवं कर्मचारियों को बधाई दी

उन्होंने कहा कि सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले विद्यालयों को शिक्षा विभाग द्वारा 5 लाख, 7.50 लाख रुपये और 10 लाख रुपये का ईनाम दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि विद्यालयों की रैंकिंग को मिडल, हाई और सीनियर सेकेंडरी तीन श्रेणियों में विभाजित किया गया है तथा स्कूलों की रैंकिंग (ग्रेडिंग) का आधार परिणाम, बुनियादी ढांचा, सह-शैक्षिक गतिविधियाँ, स्कूल प्रबंधन समितियों और लोगों का योगदान और छात्रों की उपस्थिति को माना गया है।

पुरस्कार प्राप्त करने वाले मिडल स्कूल सिंबली गुजरां के इंचार्ज सुशील कुमार, सरकारी हाई स्कूल रानीपुर रमसा की प्रधानाध्यापिका रविंदर कौर और सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल नरोट मेहरा की प्रिंसिपल नीलम राठौर ने कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान की अगुवाई में पंजाब सरकार द्वारा सरकारी स्कूलों में शिक्षा का स्तर सुधारने के लिए लगातार काम किया जा रहा है सरकारी स्कूलों के परिणामों में सुधार, बुनियादी ढांचे के विकास और शिक्षण स्टाफ की उपलब्धता के संदर्भ में निरंतर समर्पित प्रयासों के सकारात्मक परिणाम देखने को मिल रहे हैं।

शिक्षा क्षेत्र में सुधार के लिए विभिन्न पहलुओं पर आधारित समग्र रैंकिंग सरकारी स्कूलों में शिक्षा के स्तर को ऊपर उठाने में भी मदद करेगी क्योंकि इस पारदर्शी और निष्पक्ष प्रतिस्पर्धा शिक्षकों और प्रधानाचार्यों के लिए एक समान अवसर प्रदान करती है।

इस अवसर पर उप जिला शिक्षा अफसर एलीमेंट्री दुर्योधन गुरदयाल सिंह, जिला कोआर्डिनेटर मीडिया सैल बलकार अत्री, शिक्षा सुधार टीम एवं सभी शिक्षकों ने पठानकोट जिले का नाम रोशन करने वाले स्कूल के प्रधानाध्यापकों को बधाई दी।

 

 

सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल नरोट मेहरा ने लड्डू बांट किया खुशी का इजहार

सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल नरोट मेहरा की प्रिंसिपल नीलम राठौर ने कहा कि जैसे ही उन्हें पता चला कि उनके स्कूल को सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार के लिए चुना गया है तो पूरे विद्यालय में खुशी का माहौल है पैदा हो गया। स्कूल स्टाफ व विद्यार्थियों ने लड्डू बांटकर अपनी खुशी का इजहार किया।

उन्होंने इस उपलब्धि का श्रेय स्कूल स्टाफ, छात्रों, छात्रों के अभिभावकों, एसएमसी समिति के सदस्यों और ग्राम के गणमान्य व्यक्तियों को दिया जिनके सहयोग से स्कूल आज यह उपलब्धि हासिल कर सका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: