Latest news

फरीदकोट यूनिवर्सिटी के 2 उच्च अधिकारियों ने दिए इस्तीफे

फरीदकोट यूनिवर्सिटी के 2 उच्च अधिकारियों ने दिए इस्तीफे

– अधिकारियों ने मेडिकल शिक्षा और अनुसंधान विभाग के डायरेक्टर को लिखा पत्र

शिक्षा फोकस, फरीदकोट। सरकारी मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. राजीव देवगन और गुरु नानक देव अस्पताल के मेडिकल सुपरिंटेंडेंट डा. के.डी. सिंह ने मेडिकल शिक्षा और अनुसंधान विभाग के डायरेक्टर को पत्र लिखकर अपने-अपने पदों को छोड़ने की इच्छा व्यक्त की है। प्रिंसिपल डायरेक्टर डॉ. राजीव देवगन और सुपरिंटेंडें डॉ. के.डी. सिंह के इस्तीफे की पुष्टि हो गई है।

जानकारी के अनुसार मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. राजीव देवगन कॉलेज की कैंसर यूनिट के प्रमुख हैं। उन्होंने विभाग के डायरेक्टर को लिखे पत्र में कहा है कि वह हमेशा अपनी ड्यूटी पूरी लगन और मेहनत से करते हैं। कैंसर विभाग में मरीजों की संख्या दिनों-दिन बढ़ती जा रही है। दोनों कार्य महत्वपूर्ण हैं, इसलिए वह अब प्रधान निदेशक के पद पर नहीं रह सकते हैं। कृपया करके यह पद किसी और को दे दिया जाए

गौर हो कि इससे पहले बाबा फरीद मेडिकल यूनिवर्सिटी के वीसी डा. राज बहादुर को वार्ड में फटे-पुराने गद्दे पर लिटाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। पंजाब में इस्तीफों की झड़ी लग गई है। मंत्री के व्यवहार से आहत होकर वीसी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने देर रात त्याग पत्र प्रदेश के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित को भेज दिया। मामले को लेकर अकाली दल प्रधान सुखबीर बादल, सांसद हरसिमरत कौर बादल, पूर्व स्वास्थ्य मंत्री बलवीर सिद्धू, पीएयू के पूर्व वीसी सरदारा सिंह जौहल ने भी डा. राज बहादुर के साथ स्वास्थ्य मंत्री के दुर्वयवहार की कड़ी निंदा की है। उनके बाद उनके सचिव ओपी चौधरी ने भी पद से इस्तीफा दे दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: